March 16, 2019 सफेद दाग को दूर करने के घरेलू उपाय

सफेद दाग को दूर करने के घरेलू उपाय

सफेद दाग को अंग्रेजी में ल्यूकोडरमा कहा जाता है। यह एक प्रकार का त्वचा का रोग है जिसमें त्वचा के रंग में सफेद चकते पड़ जाते हैं। ल्योकोडरमा यानी की सफेद दाग। यह शरीर के जिस हिस्से में होता है उसी जगह सफेद रंग के दाग बनने लगते हैं।धीरे-धीरे यह दाग बढ़ने लगते हैं। भारत में 2 फीसदी आबादी इस समस्या से परेशान है। समाज में यह धारण बन गई है की यह कुष्ठ रोग है पर यह कुष्ठ रोग नहीं होता। यह न तो कैंसर है, न ही कोढ़ होता है।सफेद दाग के मुख्य कारण है कैलिश्यम की कमी, जलने या चोट लगना, पेट में कीड़े होना आदि खून में खराबी,विपरीत भोजन की वजह से जैसे मछली के साथ दूध का सेवन करना, पाचन तंत्र में कीड़े होना लीवर की समस्या, पेट में गैस की समस्या,आनुवंशिक समस्या अत्याधिक चिंता करना और तनाव लेना सफेद दाग होना एक आम समस्या है यह दाग हाथों, पैरों, चेहरे, होठों आदि पर छोटे रूप में होते हैं फिर ये बडे़ सफेद दाग का रूप ले लेते हैं।यह संक्रामक रोग छोटे बच्चों को भी हो सकता है। सफेद दाग का इलाज आयुर्वेद में उपल्ब्ध है। अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है।

आयुर्वेद के अनुसार पित्त दोष की वजह से सफेद दाग की समस्या होती है।ल्यूकोडरमा यानी सफेद दाग के कारगर वैदिक उपचार इस
प्रकार है-

1)  सफेद चक्तों को दूर करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है अपनी जीवन शैली और खान-पान में परिवर्तन लाना। करेले की सब्जी का सेवन अधिक से अधिक करना, खट्टा, ज्यादा नमक का सेवन,मछली और दही आदि से दूर रहना।

2)   तांबे के बर्तन में रात को पानी भरकर उसका सुबह सेवन करें।

3)  गाजर, लौकी और दालें अधिक से अधिक सेवन करें। एलोवेरा का जूस पीएं। 2 से 4 बादाम डेली सेवन करें। सफेद -तिल को खाने में इस्तेमाल करें। पालक, गाय का घी, खजूर का इस्तेमाल करते रहें।

4)   हरड़ को घिसकर लहसुन के रस में मिलाकर इसके पेस्ट को सफेद दाग पर लगाएं। ऐसा करने से सफेद दाग ठीक हो जाते हैं।

5)  गर्म दूध में पीसी हल्दी को डालकर दिन में 2 बार पीने से 5 महीने में सफेद दाग से मुक्ति मिल जाती है।

6)  नीम की पत्तीयों का पेस्ट बनाएं उसे छननी में डालकर उसका रस निकाल लें फिर उसमें 1 चम्मच शहद डालें और मिलाकर दिन में 3 बार पीएं।

7)  2 चम्मच अखरोट का पाउडर उसमें थोड़ा सा पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं और इसे 20 मिनट तक लगा कर रखें दिन में 3 से 4.बारी ऐसा करें।

8)  1 चम्मच हल्दी पाउडर, 2 चम्मच सरसों का तेल को मिलाएं फिर इस पेस्ट को सफेद चक्तों वाली जगह पर लगाएं और 15 मिनट तक रखने के बाद उस जगह को धो लें एैसा दिन में 3 से 4 बारी करते रहें।

9)  मूली और मांस के साथ दूध न पीएं। नींद पूरी लें, कम से कम 8 घंटे की नींद लें।साबुन और डिटरजेंट का इस्तेमाल न करें।सफेद दाग की समस्या कोई लाइलाज
बीमारी नहीं है।आयुर्वेदिक उपायों के जरिए इसे पूरी तरह से ठीक किया जा सकता है। साथ ही यह बीमारी छूने से किसी से हाथ मिलाने से, या फिर शररिक संबंध बनाने से भी नहीं फैलती है।

Treatment of Kidney Disease With the Help of Natural Remedies (प्राकृतिक उपायों की मदद से करें किडनी रोग का इलाज)

किडनी शरीर के महत्वपूर्ण अंगों में से एक है। किडनी रक्त में मौजूद पानी और व्यर्थ पदार्थो को अलग करने का काम करता है।  इसके

Read More »

क्यों धार्मिक कार्य में लहसुन-प्याज़ का उपयोग नही होता ???

क्यू नही खाते ब्राह्मण प्याज और लहसुन, क्या बस यही कारण है की इन्हे खाने से मुख से दुर्गंध आती है या कुछ और !!!!!………..

Read More »

These work should never be done after eating food(खाने के बाद कभी नहीं करने चाहिए ये काम)

दिनचर्या व खानपान से शरीर में कई तरह की बीमारियां पैदा कर सकता है। इसीलिए आयुर्वेद में मान्यता है कि नियमित दिनचर्या से आयु लंबी

Read More »

One thought on “सफेद दाग को दूर करने के घरेलू उपाय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *